Archive

 
दिशाओं का शुभाशुभ विचार

दिशाओं का शुभाशुभ विचार

Siddharth Jain

306 View

दिशाओं का निर्धारण सूर्योदय की दिशा के आधार से किया जाता है। सूर्योदय की दिशा पूर्व कहलाती है। सूर्यास्त की दिशा पश्चिम दिशा कही जाती है।

Read More
वास्तु का दिशा विचार

वास्तु का दिशा विचार

Siddharth Jain

425 View

प्राकृतिक रूप से चार प्रमुख दिशाएं, चार विदिशाएं तथा ऊध्र्व एवं अधी, इस प्रकार दश दिशाएं मानी जाती हैं। प्रत्येक दिशा का अपना-अपना महत्व है।

Read More
वास्तु दिशाएँ

वास्तु दिशाएँ

Siddharth Jain

1856 View

धरातल स्तर में आठ दिशाएँ होती हैं पूर्व, उत्तर-पूर्व दिशा (ईशान कोण), उत्तर, उत्तर-पश्चिम दिशा (वायव्य कोण), पश्चिम, दक्षिण-पश्चिम दिशा (नैऋत्य कोण), दक्षिण व दक्षिण-पूर्व दिशा (आग्नेय कोण)।

Read More